शतरंज मंच

शतरंज मंच

time:2021-10-22 16:58:00 एनपीएस में निवेश किया है? जानिए एसेट एलोकेशन में कैसे करें बदलाव Views:4591

lovebet जर्सी शतरंज मंच betway इनसाइडर,fun88 ब्रिटेन लाइव चैट,lovebet 50/1 इंग्लैंड,lovebet आयोवा,lovebet टियर 3,३ स्लॉट अर्थ,बैकरेट बैंकर सट्टेबाजी युक्तियाँ,बैकारेट प्ले ट्रिक्स,गैस्ट्रोएंटरोलॉजी एससीई पीडीएफ के लिए सर्वश्रेष्ठ पांच एमसीक्यू,फ़ुटबॉल ऑनलाइन खरीदें,कैसीनो मोंटिसेलो,शतरंज मैं बनाम कंप्यूटर,क्रिकेट किताबें उपन्यास,क्रिकेटर डार्सी शॉर्ट,यूरोपीय कप फाइनल मकाऊ सेट,फुटबॉल बिब्स,गाला स्पिन जैकपॉट किंग गेम्स,खुश किसान मेमे,अमर लवबेट,जैकपॉट कार,l'application lovebet,लाइव फुटबॉल रूले,लॉटरी - मतलब हिंदी में,एम पोकर हब,ऑनलाइन कैसीनो कॉस्मो,ऑनलाइन गेम वर्चुअल,ऑनलाइन स्लॉट ओहियो,पोकर 4 कार्ड,पोकर याकूब 0,रूले प्रश्न,रम्मी खेल विविधताएं,फुटबॉल लाइव,स्लॉट्स का matlab,खेल से संबंधित करंट अफेयर्स,तीन पत्ती लीजेंड,शर्ली जैक्सन द्वारा लॉटरी सारांश,वर्चुअल क्रिकेट लीग टी10 2021,वाइल्डज़ वाई लैंग डाउर्ट वेरिफ़िज़िरंग,parimatch लॉगिन,करीना हिंदी,क्षत्रिय स्टेटस फोटो,जैकपॉट इन हिंदी मीनिंग,पोकर इन हिंदी,बरसात हो,रामी बाई,स्टेटस बर्थडे, .एनपीएस में निवेश किया है? जानिए एसेट एलोकेशन में कैसे करें बदलाव

नेशनल पेंशन स्‍कीम (एनपीएस) सरकार की एक महत्वपूर्ण स्‍कीम है. यह लोगों को रिटायरमेंट के लिए बचत करने में मदद करती है.
नेशनल पेंशन स्‍कीम (एनपीएस) सरकार की एक महत्वपूर्ण स्‍कीम है. यह लोगों को रिटायरमेंट के लिए बचत करने में मदद करती है. इसके लिए उन्हें टियर-1 और टियर-2 अकाउंट में नियमित कॉन्ट्रिब्‍यूशन करने की जरूरत पड़ती है. एनपीएस अकाउंट खोलते वक्त सब्सक्राइबर्स को विकल्प दिया जाता है. वे चाहें तो विभिन्न एसेट क्लास में खुद पैसा लगाएं. या फिर ऑटो च्‍वाइस ऑप्शन चुनें. इसमें सब्सक्राइबर की उम्र के हिसाब से फंडों का आवंटन होता है. एनपीएस के फंडों का प्रबंधन स्‍वतंत्र पोर्टफोलियो मैनेजर करते हैं. सब्‍सक्राइबरों को अकाउंट खोलते वक्त फंड मैनेजर को चुनने की जरूरत होती है. हालांकि, सब्‍सक्राइबर निवेश के एलोकेशन या पोर्टफोलियो मैनेजर को बाद में ऑनलाइन बदल सकते हैं. आइए, यहां जानते हैं कैसे.

सबसे पहले एनपीएस पोर्टल पर जाएं
एनपीएस सब्‍सक्राइबर को सबसे पहले https://cra-nsdl. com/CRA/ पर लॉग-इन करना होगा. लॉग-इन आईडी सब्सक्राइबर का पीआरएएन नंबर होता है.

इसे भी पढ़ें : ईटीएफ के बारे में यहां जानिए अपने हर सवाल का जवाब

स्‍कीम की पसंद कैसे बदलें?
इसके बाद आपको 'ट्रांजैक्ट ऑनलाइन' टैब पर क्लिक करना होगा. फिर 'चेंज स्‍कीम प्रिफरेंस' चुनें. अब आपको टियर-1 या टियर-2 अकाउंट चुनना होगा. एक्टिव च्‍वाइस या ऑटो च्‍वाइस का विकल्प चुनें. अगर ऑटो च्‍वाइस में बदलाव किया जाता है तो एसेट एलोकेशन का प्रतिशत भी विभिन्न एसेट क्लास में बताना होगा.

इसे भी पढ़ें : डॉ रेड्डीज लैब के शेयरों में क्‍यों निवेश की सलाह दे रहे हैं विश्लेषक?

पोर्टफोलियो मैनेजर कैसे बदलें?
आप पोर्टफोलियो मैनेजमेंट कंपनी भी बदल सकते हैं. ये पेंशन फंड का प्रबंधन करती हैं. यह बदलाव 'ट्रांजैक्ट ऑनलाइन' पर क्लिक कर 'चेंज पीएफएम' ऑप्शन चुनकर किया जा सकता है. आप उपलब्ध विकल्पों से अपनी पसंद का पीएफएम चुन सकते हैं. फिर रिक्वेस्ट को जमा कर दें.

किन बातों का रखें ध्‍यान?
- पोर्टफोलियो मैनेजर में बदलाव एनपीएस पोर्टफोलियो मैनेजर्स के इंवेस्‍टमेंट रिटर्न की तुलना के बाद किया जा सकता है. इसके लिए एक समयसीमा और खास एसेट क्लास चुने जा सकते हैं.

- ये बदलाव पीओपी-एसपी के कार्यालय में जाकर किए जा सकते हैं. इसके लिए बदलाव संबंधी फॉर्म जमा करना होगा.

पैसे कमाने, बचाने और बढ़ाने के साथ निवेश के मौकों के बारे में जानकारी पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज पर जाएं. फेसबुक पेज पर जाने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें
(Disclaimer: The opinions expressed in this column are that of the writer. The facts and opinions expressed here do not reflect the views of www.economictimes.com.)

टॉपिक

एनपीएसफंड मैनेजरसब्‍सक्राइबरएसेट एलोकेशननेशनल पेंशन सिस्‍टम

ETPrime stories of the day

Tech on board: Chalo navigates the tricky terrain of mass mobility with its ‘OS for buses’
Strategy

Tech on board: Chalo navigates the tricky terrain of mass mobility with its ‘OS for buses’

8 mins read
Rahul vs. Rakesh: turbulence ahead for IndiGo as promoters turn up the heat in legal battle
Aviation

Rahul vs. Rakesh: turbulence ahead for IndiGo as promoters turn up the heat in legal battle

10 mins read
Inside story of how Centrum and BharatPe ‘unified’ for their banking dream. But challenges start now.
Banking

Inside story of how Centrum and BharatPe ‘unified’ for their banking dream. But challenges start now.

15 mins read

एनपीएस अकाउंट खोलते वक्त सब्सक्राइबर्स को विकल्प दिया जाता है. वे चाहें तो विभिन्न एसेट क्लास में खुद पैसा लगाएं. या फिर ऑटो च्‍वाइस ऑप्शन चुनें.सर्वे में 20 से ज्‍यादा इंडस्‍ट्रीज की 1,200 कंपनियों की प्रतिक्रिया ली गई. इनमें से 1,000 ने इस साल वेतनवृद्धि के लिए कहा है.आईटी और रिटेल सेक्‍टर में मार्च में हुईंं ज्‍यादा भर्तियां : रिपोर्ट

डिजिटल इकनॉमी में नए टैलेंट की जरूरत होगी. आइए, यहां टॉप रिक्रूटमेंट फर्मों से उन स्किल्‍स के बारे में जानते हैं जो सबसे ज्‍यादा डिमांड में हैं.विशेषज्ञों का कहना है कि औद्योगिक कमोडिटीज में निवेश से सोने के मुकाबले बढ़िया रिटर्न मिल सकता हैमुझे महीने में 40,000 रुपये म्‍यूचुअल फंडों में निवेश करना है, किन स्‍कीमों में लगाऊं?

एक साल पहले इस फंड के अनुभवी मैनेजर ने इस्तीफा दिया. हालांकि, स्‍कीम की बागडोर मजबूत प्रबंधन के हाथों में है. निवेश के तरीके में कोई बड़ा बदलाव नहीं हुआ है.भारतीय शहरों में करीब 15 फीसदी कंपनियों की फरवरी से अप्रैल 2021 के बीच फ्रेशर्स को भर्ती करने की योजना है. लर्निंग सॉल्‍यूशंस फर्म टीम लीज एडटेक के सर्वे से इसका पता चलता है. टीमलीज एडटेक के सीईओ शांतनु रूज ने कहा कि कोरोना की महामारी के बावजूद कंपनियों के एजेंडे में फ्रेशर्स की हायरिंग है.मुझे रिटायरमेंट के लिए 21 साल में 1 करोड़ रुपये जुटाना है, कैसे प्‍लान बनाऊं?

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
lovebet क्रिकेट नियम

सुकन्या समृद्धि स्‍कीम में बेटी के जन्‍म के बाद उसके नाम पर खाता खुलवाया जा सकता है. उसके 10 साल का होने तक ऐसा किया जा सकता है.

फुटबॉल भोजपुरी

सुकन्या समृद्धि स्‍कीम में बेटी के जन्‍म के बाद उसके नाम पर खाता खुलवाया जा सकता है. उसके 10 साल का होने तक ऐसा किया जा सकता है.

lovebet 1xbet

समय गुजरने के साथ उन्‍हें इक्विटी में निवेश कम कर देना चाहिए. इसके बजाय धीरे-धीरे डेट फंडों की ओर रुख करना चाहिए.

कैसीनो होटल अर्थ

रोजगार संबंधी सेवाएं देने वाली वेबसाइट नौकरी डॉट कॉम के 'हायरिंग आउटलुक सर्वे' के अनुसार, नियोक्ता नए साल को लेकर आशावान लग रहे हैं.

एस्पोर्ट्स प्रायोजक

पिछले साल से अब तक बड़े उतार-चढ़ाव हुए हैं. लोगों ने कोरोना की महामारी के कहर को देखा और अब जिंदगी को पटरी पर लौटते देख रहे हैं. शायद ही यह दौर भुलाए भूलेगा. हालांकि, इससे कई सबक भी मिले हैं. ये करियर में आगे बढ़ने में मदद कर सकते हैं. आइए, यहां उनके बारे में जानते हैं.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी